यह भारत का इकलौता वीवीआईपी पेड़ इस पेड़ का पत्ता भी सूखता है तो प्रशासन हिल जाता है |

इन्डिया मे बहुत समय से है यह VVIP पेड़ -


भारत मे VVIP को कितनी सुविधा मिलती है इस बात को
आप बहुत ही अच्छी तरह जानते होंगे हर कोई व्यक्ति वीवीआईपी बनना चाहता है जिसके लिये वह दिन रात मेहनत करता है लेकिन नसीब हर किसी का बुलन्द नही होता बहुत कम ही लोग इस मुकाम तक पहुंच पाते हैं लेकिन हम जिस वीवीआईपी की बात कर रहे है वह कोई मनुष्य नही बल्कि एक पेड़ है जिसे प्रशासन पुरी वीवीआईपी की सुविधा देता है अगर इस पेड़ का पत्ता भी सूखता है तो प्रशासन हिल जाता है |
यह बात सुनकर आपको थोड़ी हैरानी होगी लेकिन यह बात बिल्कुल सही है यह पेड़ भोपाल की राजधानी के करीब सलामतपुर नाम की पहाड़ी पर है इस पेड़ की सुरक्षा के लिए 24 घंटे दो गार्ड तैनात रहते हैं पेड़ के चारों ओर लोहे के तार का जाल लगा है खान पान के लिए पानी का पुरा टैंकर रहता है जो जरूरत पड़ने पर पानी देता है |
इस पेड़ का इतना ख्याल इसलिये रखा जाता है क्योंकि इस पेड़ की किस्मत बीज के समय से ही अच्छी है। जब ये पौधा बनकर तैयार हुआ तो इसे श्रीलंका के पूर्व राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे के हाथों पर रख दिया गया। राजपक्षे ने इस बोधि वृक्ष को अपने हाथों से रोंपा है। इसलिए बौध धर्म अनुयायियों के अलावा प्रदेश के प्रशासन के लिए भी पेड़ खास है।

वीडियो यह देखे -

Previous Post
Next Post
Related Posts